• भारत सरकार
    Government of India
  • कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय
    Ministry of Skill Development and Entrepreneurship

You are here

प्रश्नः क्या शिक्षुओं को कोई वृत्तिका दी जाती है?

उत्तर:

शिक्षुता प्रशिक्षण के दौरान, शिक्षुओं को उनके दैनिक खर्चों को पूरा करने के लिए मासिक वृत्तिकाका भुगतान किया जाता है। व्यवसाय शिक्षुओं को दी जाने वाली वृत्तिका पर होने वाला व्यय नियोक्ताओं द्वारा वहन किया जाता है। स्नातक, तकनीशियन, तकनीशियन (व्यावसायिक) के मामले में, यह नियोक्ता और केंद्र सरकार द्वारासमान रूप से वहन किया जाता है।

व्यवसाय शिक्षुओं के लिए वृत्तिका की दरें (22-09-2014 से संशोधित):

शिक्षुता प्रशिक्षण की अवधि वृत्तिका की दरें (प्रति माह)
प्रथम वर्ष संबंधित राज्य या संघ राज्य क्षेत्र द्वारा अधिसूचित अर्ध-कुशल कामगारोंके न्यूनतम वेतन का 70%
द्वितीय वर्ष संबंधित राज्य या संघ राज्य क्षेत्र द्वारा अधिसूचित अर्ध-कुशल कामगारोंके न्यूनतम वेतन का 80%
तृतीय तथा चौथा वर्ष संबंधित राज्य या संघ राज्य क्षेत्र द्वारा अधिसूचित अर्ध-कुशल कामगारोंके न्यूनतम वेतन का 90%


स्नातक, तकनीशियन और तकनीशियन (व्यावसायिक) शिक्षुओंके लिए वृत्तिका की दरें (19-12-2014 से संशोधित)

शिक्षुओं की श्रेणी वृत्तिका की दरें (प्रति माह)
इंजीनियरिंग स्नातक रु. 4984/-
सैंडविच पाठ्यक्रम (डिग्री संस्थानों से छात्र) रु. 3542/-
तकनीकी शिक्षु रु. 3542/-
सैंडविच पाठ्यक्रम (डिप्लोमासंस्थानों से छात्र) रु. 2890/-
तकनीशियन (व्यावसायिक)शिक्षु रु. 2578/-
Hindi